डिप्रेशन से बचाएंगे ये 11 आहार

डिप्रेशन से बचाएंगे ये 11 आहार

loading...

डिप्रेशन से बचाएंगे ये 11 आहार

तनाव, दुरुपयोग, चिंता, व्यक्तिगत और वित्तीय समस्याओं की वजह से अवसाद (depression) हो जाता है। इस बीमारी के कुछ लक्षण (symptoms) भी होते हैं जैसे अचानक वजन बढ़ना या वजन घटना, अनिद्रा या ज्‍यादा नींद आना, यौन इच्‍छा में कमी (lack), मन में बार-बार आत्महत्या का विचार (thought) आना और रोजाना के काम ना कर पाना आदि।

यह सारे लक्षण (symptoms) जिनके अंदर हैं वे काफी दर्द (pain)नाक और बुरे वक़्त से गुज़र रहे होते हैं। लेकिन अब घबराने की जरुरत नहीं है अगर आपके अंदर सब्र (patience) है तो आप हर मुश्किल वक़्त को आसानी से गुज़ार सकते हैं। इसी तरह आज हम आपको कुछ ऐसे ही खाद्य पदार्थों (foods) के बारे में बताने जा रहें हैं जो आपको अवसाद (depression) से लड़ने में मदद (help) करेंगे।

Click Here To Read:- 10 Depression Symptoms And Warning Signs

  1. ओमेगा –3 फैटी एसिड | Omega-3 Fatty Acid

जब भी आपको अवसाद (depression) हो तो तुरंत ओमेगा -3 फैटी एसिड की मात्रा अपने खाने में बढ़ा दीजिये, जैसे मछली, और वॉलनट्स। मछली (fish) में आप सलमन, हेरिंग, लेक ट्राउट, सार्डिन, मैकेरल या टूना खा सकते हैं।

  1. पालक | Spinach

पालक भी अवसाद (depression) में काफी फायदेमंद होती है, क्योंकि इसमें आयरन और मैग्नीशियम होता है जो दिमाग (brain) को शांत और पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है।

  1. बादाम | Almonds

मैग्नीशियम का सबसे अच्छा स्रोत जो अवसाद (depression) से लड़ने में मदद (help) करता है और यह बादाम (almonds) में काफी मात्रा में पाया जाता है। सिर्फ 100 ग्राम बादाम के पैक में 238 ग्राम मैग्नीशियम होता है, जो हमारी रोज़ की 67% मैग्नीशियम (magnesium) की जरुरत को पूरा करता है।

डिप्रेशन से बचाएंगे ये 11 आहार

  1. टमाटर | Tomato

टमाटर खाने में आपका मूड (mood) बहुत अच्छा रहता है क्योंकि इसमें लइकोपीन नाम का एंटीऑक्सिडेंट पाया जाता है जो अवसाद (depression) से लड़ने में काफी मददगार (help) साबित होता है। एक स्टडी (study) में यह पाया गया है कि जो लोग सप्ताह में दो से छे बार टमाटर खाते हैं वे 46% तक कम अवसाद (depression) ग्रस्त होते हैं।

  1. एवोकाडो | Avocado

एवोकाडो में ओमेगा -3 और फोलेट पाया जाता है जो अवसाद (depression) से लड़ने में मदद (help) करता है। यही नहीं इसमें पोटेशियम और मोनोअनसैचुरेटेड फैट भी पाया जाता है। जो भावनाओं को काबू करने में मदद (help) करते हैं।

  1. ग्रीन टी | Green Tea

ग्रीन टी में एंटीऑक्सीडेंट और एमिनो एसिड पाया जाता है जो अवसाद (depression) से बचाती, इलाज (treatment) करती और उसे बहार आने में भी मदद (help) करती है। इसलिए ग्रीन टी उन लोगों (peoples) को जरूर पीनी चाहिए जो जल्दी मुसीबतों से घबराने लगते हैं।

  1. ब्लूबेरी | Blueberry

ब्लूबेरी (blueberry) में विटामिन सी पाया जाता है। 100 ग्राम ब्लूबेरी में 9.7 मिलीग्राम विटामिन सी होता है जो रोज़ का 15% के बराबर (equal) है। साथ ही इसमें अधिक मात्रा में पाये जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट आपके शरीर (body) को अवसाद (depression) से दूर रखते हैं।

डिप्रेशन से बचाएंगे ये 11 आहार

  1. साबुत अनाज | Whole Grain

यह तो हम सभी जानते हैं कि साबुत अनाज (whole grain) हम सबके लिए कितने फायदेमंद होते हैं। लेकिन क्या आप यह जानते हैं कि यह अवसाद (depression) में बहुत लाभदायक सिद्ध होते है। इनमें कार्बोहाइड्रेट होता है जो मूड स्विंग्स (mood swings) की परेशानी को रोकता है।

  1. नारियल | Coconut

नारियल में फाइबर 36%, आयरन (13% डीवी),पोटेशियम (10%), प्रोटीन (6% डीवी), विटामिन सी (5%), विटामिन बी -6 (5%) और 30 ग्राम सैचुरेटेड फैट 100 ग्राम के नारियल में होता है। और इसमें शक्तिशाली इलेक्ट्रोलाइट्स होते हैं जो अवसाद (depression) से लड़ने में मदद (help) करते हैं। रोज़ एक गिलास ताज़ा नारियल का रस पीयें या इसके तेल (oil) में बना हुआ भोजन खाएं।

10 अंडे | Eggs

पोषक तत्वों की कमी (lack) से आपको थकन और काम करने की शक्ति कम होजाती है। अंडे में प्रोटीन, विटामिन डी, विटामिन बी 12, विटामिन ए, कैल्शियम, विटामिन बी -6, पोटेशियम और मैग्नीशियम होता है जो आपके एनर्जी के लेवल (energy level) को बनाये रखता है।

Click Here To Read:-  How Does PubG Affect Our Life In Real? Know Positive and Negative Effects of the PubG

  1. स्किम मिल्क | Skimmed Milk

यह असनी से हर घर (house) में मिल जाता है, इसमें प्रोटीन, कैल्शियम और विटामिन डी की सही मात्रा होती है जो अवसाद (depression) को दूर रखता है। और अगर आप दूध नहीं पीते हैं तो उसकी जगह आप दूध (milk) से बना दही या पनीर भी खा सकते हैं।

डिप्रेशन से बचाएंगे ये 11 आहार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *