पेट में गैस के कारण लक्षण और घरेलू उपचार

पेट में गैस के कारण लक्षण और घरेलू उपचार

loading...

पेट में गैस के कारण लक्षण और घरेलू उपचार

जब भी हम भोजन करते हैं तब उस खाने को पेट में पचाना होता तो जिससे हमे कई प्रकार के पाचक रस मिलते हैं और जब यह सब आपस में मिलते हैं तो एक प्रतिक्रिया होती है जिससे पेट मैं एक वायु उत्पन्न होती है जो के गैस का रूप ले लेती है, यह गैस हमेशा ही अपच की वजह से होती है। मतलब यह है के जब हमारा भोजन नहीं पचता है तब ज्यादातर पेट में गैस बन जाती है। ये गैस बाद में केवल मल के साथ ही बाहर आती है। कभी-कभी यह गैस डकार के साथ भी बहार आती है।

पेट गैस को अधोवायु भी बोलते हैं। इसे पेट में रोकने रखने से कई प्रकार की बीमारियां हो सकती हैं, जैसे के कब्ज, एसिडिटी, पेटदर्द, सिरदर्द, जी मिचलाना या बेचैनी आदि। लंबे समय तक पेट की गैस को रोके रखने से बवासीर जैसी गंभीर बीमारी भी हो सकती है। आयुर्वेद तो यहाँ तक कहता है कि आगे जाकर इस बीमारी के कारण नपुंसकता और महिलाओं में तो यौन रोग होने की भी काफी आशंका हो सकती है।                      

Click here to read:-  Avoid these 5 Foods which Create Gas and Acidity                                

किन-किन लोगों को होती है गैस की समस्या | Who Can Be A Victim Of The Problem Of Gas

आजकल साधारणत: बच्चो, युवाओ एवंम 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगो मे पेट मे अम्ल की अधिकता होने के कारण भी गैस की समस्या देखी जा रही है। यदि पेट की भीतरी परत में अम्ल बना रही हो और वह पेट की सतह को छू रही हो तो इससे पीड़ित व्यक्ति को असहनीय दर्द एवंम पीड़ा होती है।

जल्दी ही यह सारा अम्ल पेट के संपर्क में आ जाता हैं जिससे के रोगी को काफी मात्रा में दर्द और तकलीफ को झेलना पड़ता है। इससे आपको आंत में गैस्ट्रिक का भी सामना करना पड़ता है। इस परेशानी के शिकार लोग आमतौर पर 40 वर्ष या इससे ज़्यादा उम्र के लोग होते हैं, पर यह समस्या आजकल के जवान लोगों और बच्चों में भी देखने को मिल सकती है।

गैस के कारण | Reasons Of Gas

  • ज्यादा भारी खाना खाने से जो पेट में पच न सके, ऐसे खाने से गैस बनती है।
  • नशीले पदार्थों का सेवन करने से भी यह परेशानी होती है।
  • पेट में बैक्टीरिया का ओवरप्रोडक्शन होना।
  • खाने के साथ-साथ कोल्ड ड्रिंक लेने से भी, क्योंकि इसमें गैसीय तत्व अत्याधिक होते हैं।
  • मानसिक तनाव भी इसका एक कारण है|
  • ज्यादा तीखा, मिर्च-मसाले वाला भोजन करने से।
  • भूख लगने से अधिक खाना खाने पर।
  • खाने को अच्छी तरह से न खाने पर यानी भोजन को अच्छे से चबा चबा कर न खाने पर।
  • लीवर की खराब भी इसका एक कारण है|
  • अधिक लम्बे समय तक भी बिना कुछ खाए खाली पेट रहने से पेट भी पेट मैं गैस बन जाती है।
  • तले-भुने हुए भोजन का अधिक सेवन करने से जैसे के पिज़्ज़ा, बर्गर, सैंडविच इत्यादि।
  • जिस खाने में फाइबर बहुत ज्यादा मात्रा में होता है वह आहार भी गैस का कारण बनता है।

गैस के लक्षण | Symptoms Of Gas

किसी भी बिमारी का पता उसके लक्षणों से चल जाता है, इसलिए आपको इस बिमारी में होने वाले किसी भी प्रकार के या सभी लक्षण नीचे बताये गये हैं जो की इस प्रकार से है-

  1. जलन होना | Acidity

जब किसी व्यक्ति को गैस की समस्या होती है तब उसके पेट एवं छाती मैं काफी जलन होती है। उस व्यक्ति को ऐसा महसूस होता है जैसे उसकी छाती में कुछ जल रहा हो और इसी से पता चलता है के पेट में एसिडिटी बन रही है|

  1. डकार आना | Burp

वैसे तो खाना खाने के बाद 1-2 डकार तो आ ही जाती है, पर अगर डकार ही मात्रा ज्यादा है तो आपको  समझ जाना चाहिए के आपको गैस की तकलीफ शुरू हो गयी है।

  1. पेट मैं दर्द | Stomach Pain

पेट में गैस होने पर पेट में अक्सर दर्द रहता है, और क्यूंकि पेट में एसिडिटी बहुत अधिक मात्रा में बनती है यही कारण है के पेट में दर्द होने लगता है और पेट में अफरा बनता है।

  1. अपान वायु | Apaan Vayu

गैस की समस्या होने पर रोगी में अपान वायु बहुत ज्यादा निकलती है। यह भी गैस की समस्या होने का एक अच्छा लक्षण है।

  1. नीद न आना | Sleeping Disorder

गैस की समस्या होने पर रोगी को कभी-कभी नीद न आने की समस्या आने लगती है नहीं आती। और रोगी को बेचेनी और घबराहट महसूस होने लगती है|

  1. पेट भारी होना | Heavy Stomach

इसका सबसे मुख्य लक्षण यह है के भोजन करने के बाद पेट बहुत भारी हो जाता है। ऐसे में रोगी जब भी भोजन करता हैं तो उसका पेट फूलने लगता है।

  1. भूख न लगना | Not Feeling Hungry

गैस की समस्या में रोगी को भूख बिलकुल नहीं लगती है क्यूंकि पेट खाने को बिलकुल पचा नही पाता है| ऐसे में पेट में हाजमा नही बनता है।

Click here to read:-  10 Home Remedies for Stomach Gas

  1. उल्टियाँ आना | Vomiting

गैस होने पर रोगी को कभी-कभी उल्टियाँ भी आने लगती हैं। खाना खाने के बाद जी मिचलाना शुरू हो जाता है|

  1. पेट में ऐठन | Cramp in Stomach

पेट में तीखे और चुभते हुए ऐंठन वाली दर्द का एहसास होता है। कभी-कभी गैस पेट के भीतर ही अपना स्थान बदल लेती है।

 

गैस का इलाज | Treatment Of Gas

गैस का आयुर्वेदिक में बहुत ही बढ़िया इलाज मिलता है, हम आपसे यह कहना चाहेंगे के आप अपनी गैस की परेशानी का इलाज इन घरेलू नुस्खों से ही आसानी से घर पर कर सकते है|

  1. गौ मूत्र से गैस का इलाज | Use Gomutra For Gas

जिस व्यक्ति को भी पेट मैं गैस है या फिर पेट मैं घाव रहते हैं तो वह आधा कप गौ मूत्र मैं थोडा सा पानी मिलाकर सुबह-सुबह खाली पेट पीयें। और जब भी आप गौ मूत्र का सेवन करें तो सबसे पहले यह देख ले के गौ प्रेगनेंट तो नही है अगर है तो आप चाहे तो मूत्र इसकी बछिया का भी ले सकते हैं फिर वह गौ आपको मूत्र सूती कपड़े में 8 बार छानना है और फिर उसे सुबह-सुबह खाली पेट पीना है और इसका सेवन प्रतिदिन करने से आपको गैस की प्रॉब्लम में 100 प्रतिशत लाभ होगा।

  1. हींग से गैस का इलाज | Hing For Gas

यह हर रसोई में पाया जाने वाला पेट के हाज़मे का सबसे बढ़िया उपचार है। यह साबित हो चुका है कि हींग उदर वायु, कब्ज़, पेट दर्द इत्यादि की स्थिति में काफी आराम पहुचाती है। आप थोड़ी सी हींग को एक गिलास गर्म पानी में मिलाकर भी पी सकते हैं। हाज़मे की समस्या को बिलकुल जड़ से ख़तम करने के लिए इस उपाय का प्रयोग आप दिन में 3 बार तो अयाश्य करें। अगर आपके पास हिंग उपलब्ध नहीं है तो आप एक गिलास गर्म पानी पीकर भी अपने हाजमे को ठीक कर सकते हैं।

  1. नींबू की चाय से गैस का इलाज | Lemon Tea For Gas

अगर आपगैस की समस्या से अत्यधिक परेशां है तो आप निम्बू की चाय का सेवन करे, इस से आप अपनी गैस को खत्म करने में सक्षम पायेंगे, इसलिए जब भी आपको गैस की तकलीफ लगती है तो आप इस निम्बू की चाय का सेवन करें, और अगर आप निम्बू चाय नही पी सकते तो आप साधारण नीबू पानी भी ले सकते है (चाहे तो पानी गरम रख ले)|

  1. सोंठ से गैस का इलाज | Saunth For Gas

जब भी आपको गैस की परेशानी होने लगे तो ऐसे में सोंठ और जायफल को अच्छे से मिलाकर उसका काढ़ा बना ले, और फिर इस काढ़े को तब तक उबालते रहे जब तक की पानी आधा न रह जाए, और फिर इसे अच्छे से छानकर पी लें, ऐसा करने से आपको पेट की गैस में काफी आराम मिलता है|

  1. पुदीना से गैस का इलाज | Mint For Gas

पुदीना पेट की गैस का सबसे अच्छा इलाज है, जब भी आप गैस की परेशानी महसूस करे तो ऐसे में  पुदीने के ताजे पत्ते लें उनका रस निकल ले और फिर इस रस का सेवन करें, ऐसे करने करने से आपको पेट की गैस में काफी लाभ मिलता है।

  1. दालचीनी से गैस का इलाज | Cinnamon For Gas

दालचीनी सेहत के लिए एक बहुत बढ़िया औषधी है, यह पेट की गैस के खात्मे के लिए एक बहुत बढ़िया उपचार है, गैस के निवारण के लिए आपको दालचीनी के तेल की 1-2 बूँदे लेनी है और फिर इसका सेवन आपको मिश्री के साथ करना है,  इस उपचार को सुबह और शाम दोनों समय करे और पेट की गैस की समस्या से छुटकारा पाए|

  1. नीबू पानी से गैस का इलाज | Lemon Water For Gas

जब भी पेट में गैस बनने लगे तो ऐसे में थोडा सा पानी लें और इस पानी में 1 नीबू निचोड़ लें और उसमें थोडा सा काला नमक भी मिला लें, और अब इसका सेवन करें, आपको जब भी प्यास लगे तो इसका इस्तेमाल करे पेट की गैस से निजात पाए|

Click here to read:-  Know 6 Difficulties Your Teeth Face As You Grow Older

  1. अदरक से गैस का इलाज | Ginger For Gas

अगर आपको गैस की समस्या रहती है तो अदरक के छोटे-छोटे टुकड़े कर ले और उस पर नमक छिड़क कर दिन में 2-4 बार सेवन करें। ऐसा करने से आपके पेट की गैस दूर होती है और आपको भूख भी खुलकर लगती है।

  1. लहसुन से गैस का इलाज | Garlic For Gas

पेट में गैस की समस्या से निजत पाने के लिए थोडा सा लहसुन ले और पीसकर थोड़े से घी के साथ मिलकर सेवन करें, ऐसा करने से पेट में बनी गैस को बाहर निकलने में आसानी होती है और पेट अच्छे से साफ़ हो जाता है।

  1. दही से गैस का इलाज | Yogurt For Gas

आज से आप जब भी खाना खाओ तो दही साथ साथ में खाओ, पर यह ध्यान रहे के दही हमेशा खट्टी हो और या तो आप दही का खट्टा पानी भी लेना चाहे तो ले सकते हैं और आप उसमें थोडा सा काला नमक भी मिला लें और फिर इसका सेवन करें, ऐसे में आपको गैस से राहत मिलती है।

  1. प्याज से गैस का इलाज | Onion For Gas

गैस की परेशानी से पीड़ित व्यक्ति को प्याज के रस में थोड़ी सी हींग और काले नमक को पीसकर मिलाकर पीने से गैस की परेशानी में काफी राहत मिलती है और साथ ही पेट के दर्द में भी काफी लाभ मिलता है।

  1. अजवायन से गैस का इलाज | Ajwain For Gas

अजवायन गैस से छुटकारा पाने के लिए एक बहु थी बढ़िया औषधि है| जंगली अजवायन को 1-2 ग्राम की मात्र में चूर्ण बनाकर सुबह  और शाम में लें, ऐसा करने से पेट गैस खत्म होने पर बहुत आराम मिलता है और पेट भी अच्छे से साफ़ हो जाता है।

  1. गुड और मेथी दाना से गैस का इलाज | Gudd And Methi Dana For Gas

पेट की गैस में रोगी को गुड और मेथी के दाने को उबाल कर उसका पीना चाहिए, इस प्राकर रोगी को गैस में बहुत लाभ मिलता है और पेट भी एकदम से साफ़ हो जाता है।

  1. छोटी हरड से गैस का इलाज | Harad For Gas

गैस की समस्या से मुक्ति पाने के लिए आओ प्रतिदिन 2 से 3 छोटी हरड को मुहं में डालकर चूसें या फिर पहले आप इन्हें घी में भून लें और फिर चूसें, ऐसा करने से आपको बहुत लाभ मिलेगा|

  1. मूली से गैस का इलाज | Mooli For Gas

मूली खाने में तो बढ़िया है ही पर या एक बहुत अच्छी औषधी भी है, यह गैस को ठीक करने में काफी मदद करता है ओसे इसके लिए आपको एक ताजा मूली लेकर उस पर नीबू का रस डालकर सेवन करना है| हर रोज मूली खाने से आपका पेट भी साफ़ हो जाएगा और पेट की गैस भी निकल जाएगी।

  1. शहद से गैस का इलाज | Honey For Gas

गैस की समस्या से छुटकारा पाने के लिए आप शहद को थोड़ी सी हरड के साथ मिलाकर इसका सेवन करें, ऐसे में आपको पेट की गैस में बहुत लाभ मिलता है।

  1. काली मिर्च व् इलायची से गैस का इलाज | Black Pepper and Cardamom For Gas

पेट में या फिर आंतों में ऐंठन होने पर आप एक छोटा चम्मच अजवाइन में थोड़ा सा नमक मिलाकर उसे गर्म पानी के साथ लेने से काफी लाभ मिलता है। कृपया बच्चों को अजवायन थोड़ी मात्र में दें।

  1. हल्दी से गैस का इलाज | Turmeric For Gas

गैस की तकलीफ के लिए थोड़ी सी हल्दी को पीसकर उसमें हल्का सा सेंधा नमक मिला ले और फिर पानी के साथ इसका सेवन करें और ऐसा करने से आपके पेट की गैस खत्म हो जायेगी और पेट के दर्द की शिकायत भी दूर हो जायेगी|

  1. मूली के रस से गैस का इलाज | Mooli Juice For Gas

मूली के रस में कुछ ऐसे एन्जायिम होते हैं जो के पेट की गैस को खत्म करने में काफी मदद करते हैं, गैस की तकलीफ होने पर मूली का रस निकाल ले और अब इस रस में थोड़ी सी हींग और काली मिर्च मिला लें, इसके सेवन से आपको हर प्रकार की तकलीफ में काफी आराम मिलता है|

Click here to read:-  Take 10 Resolutions This Diwali

गैस के अन्य घरेलू उपचार | Other Home Treatment For Gas

  • जीरे और लहसुन को 10 ग्राम घी मैं अच्छे से भुनकर इसको भोजन से पहले इसका सेवन अवश्य करें।
  • त्रिफला के चूर्ण का प्रयोग करें।
  • रोगी को हर रोज लोंग का उबला हुआ पानी दें।
  • जीरे को भुन ले और उसको अच्छी तरह से चबाकर खा लें और फिर ऊपर से गर्मपानी पी लें।
  • खाने के बाद एक छोटी कटोरी दही का सेवन अवश्य करें।
  • जिस व्यक्ति को भी गैस की तकलीफ रहती है, उसे प्रतिदिन खाना खाने के बाद थोडा सा गुड अवश्य खाना चाहिए क्यूंकि गुड भोजन को जल्दी पचने में काफी मदद करता है| (शुगर के मरीज गुड न ले क्योंकि यह मीठा होता है)|

गैस की तकलीफ से बचने के उपाय | Cure For Gas

  1. भोजन चबा-चबा कर खाएं | More Chew Your Food

भोजन को हमेशा खूब चबा-चबाकर कर खाना चहिये क्योकि जितना भोजन हम चबा-चबाकर करे खायेंगे  उतना ही भोजन जल्दी से पचेगा और भोजन जल्द ही रस में परिवर्तित होगा।

  1. समय पर खाना खाएं | Eat Food On Time

भोजन को हमेशा एक ही समय पर करना चहिये, और अगर आप एक ही समय पर भोजन नही करते है तो आपको पेट से सम्बंधित रोग लग सकते हैं।

  1. भोजन के 45 मिनट बाद पानी | After 45 Minutes of Food

आप हमेशा भोजन करने के 45 बाद ही पानी पियें। क्योकि भोजन को पचने में साधारणत: 45 मिनट का समय लगता है, और अगर आप पहले ही पानी पियोगे तो भोजन पचने की जगह सड़ने लगेगा|

  1. पेट की कसरत करें | Stomach Exercise

आप सुबह-सुबह थोड़ी  सैर अवश्य करे और योग भी करे, जेसे के अनुलोम-विलोम, कपालभाती इन दोनों तरह के योग को करने से कोई भी बीमारी आपके पास नहीं आएगी और अगर कोई बीमारी है भी तो वह  भी जल्द ही ठीक हो जाएगी।

  1. लगातार बैठे न रहे | Never Sit Contentiously

ज्यादातर लोग खाना खाने के बाद एक ही जगह पर टिककर बैठे रहते हैं, जिससे के उन्हें खाना सही तरीके से पाच नहीं पाता और फिर से गैस की प्रॉबल्म बनने लगती हैं।

  1. देर रात तक जागना | Late Night Sleep

आपको देर रात तक नही जागना चाहिए क्योंकि देर रात तक जागने से आपमें इनडाइजेशन की प्रॉबल्म भी पैदा होती हैं, जिससे के पेट में गैस की तकलीफ रहने लगती है|

  1. भोजन के बाद गुड | Gudd After Food

आपको भोजन करने के बाद थोडा सा गुड़ अवश्य खाना चाहिए क्योंकि गुड खाने से आपका खाया भोजन जल्दी ही पच जाता है |

  1. वेगों को न रोकें | Never Stop Natural Body Movement

प्राकृतिक वेगों को कभी भी रोककर न रखे। क्योंकि आधी से ज्यादा बिमारिय तो इन वेगों को रोकने से ही होती हैं, जैसे के छींक आना ,पेशाब आना, हंसी आना इत्यादि|

  1. वज्रासन योग करें | Vajrasan Yog

खान खाने के बाद हमेशा घुटने मोड़कर बैठ जाएं। और दोनों हाथों को अपने घुटनों पर रख लें। ऐसा 5 से 15 मिनट तक अवश्य करें।

Click here to read:-  Did You Know 5 Things Women Hesitate to Share With Husband

पेट में गैस बनने पर क्या खाएं | What To Eat When Suffering From Gas

  1. सब्जियों का सेवन | Eat Vegetables

पेट में गैस बनने पर आप हमेशा इन सभी सब्जयों को सेवन करे| जैसे के बथुआ, लहसुन, करेला, मूली , मेथी, गाजर, चुंकदर, पालक, हरा धनिया और अन्य प्रकार की हरी सब्जियों का सेवन कर सकते हैं।

  1. फलो का सेवन | Eating Fruits

फलों में आप मोसमी, केला, सेब, संतरा, अमरुद, चीकू, अनानास, अनार आदि फलों का भी सेवन कर सकते हैं क्योंकि यह फल आसानी से पच जाते हैं।

  1. पेय पदार्थ का सेवन | Drink Fluids

पेय पदार्थों में अगर आप गाजर का रस, चुंकदर का रस, नारियल का पानी, अनार का रस, और थोड़ी मात्रा में छाछ, और मूली का रस आदि अवश्य पीना चाहिए|

  1. नीबू का रस | Lemon Juice

नीबू का रस पीने एवं मूली खाने से गैस की तकलीफ बिलकुल नहीं होती और पाचन क्रिया में काफी सुधार होता है।

  1. सभी आहार का सेवन | Eat All Type of Food

जल्द पचने वाले खाने जैसे के सब्जियां, खिचड़ी, मट्ठा, तोरई, कददू, चोकर सहित बनी आटे की रोटी, पालक, टिंडा, अदरक, शलजम, आंवला, नीबू इत्यादि का अधिक सेवन करना चाहिए।

  1. भोजन के साथ सलाद | Salad With Food

भोजन के साथ सलाद अवश्य खाए| आप सलाद में प्याज, मूली, टमाटर, चुकन्दर आदि को शामिल करें।

Click here to read:-  10 Early Symptoms Which Gives Direct Signs of Alzheimer

पेट में गैस बनने पर क्या नहीं खाएं | What Not To Eat While Suffering From Gas

  1. नशीले पदार्थ | Drug Products

गैस में गैस बनने पर नशीले पदार्थो जैसे के तम्बाकू, गुटखा, सिगरेट, शराब, चाय, कॉफी इत्यादि से हमेशा बचना चाहिए क्योंकि यह सभी पेट के लिए हमेशा हानिकारक ही होते है और शरीर में अन्य बीमारियों को भी बढ़ाते है|

  1. खीर का न करे सेवन | Avoid Kheer

खीरे में पानी और फाइबर बहुत मात्रा में होता है जो के पाचन क्रिया में बाधा उत्तपन करता है| खीर  खाने से गैस्‍ट्रिक प्रॉब्‍लम होती है| ऐसे में खीरे को कम से कम खाना चाहिए और अगर खाना ही है तो दपहर में सलाद में ही खाए|

  1. मीठा ना खाएं | Avoid Sweets

ज्यादा मीठा खाने से भी पेट में गैस की प्रॉबल्म बनने लग जाती हैं। इसलिए मीठा जितना हो सके आप कम ही खाइए। मीठे पदार्थ में जैसे बर्फी, चीनी, कोल्ड ड्रिंक्स इत्यादि|

  1. तरबूज न खाएं | Avoid Watermelon

खीरे की तरह ही तरबूज में भी पानी और फाइबर की मात्रा बहुत अधिक पाई जाती है। जिसे पचाने में थोड़ा मुश्‍किल होती है। इसलिए तरबूज का सेवन कम करे या बिलकुल न करें।

  1. दूध न पियें | Avoid Milk

दूध में शुगर लैक्‍टोज होता है जो हर किसी में आसनी से पच नही पाता | और यही वजह है के पेट में गैस बन जाती है अफरा की शिकायत भी रहती है, ऐसे पेट में मरोड़ भी उठने लगता है इसलिए दूध का कम से कम सेवन करना चाहिए|

  1. कोल्ड ड्रिंक | Avoid Cold Drinks

कोल्ड ड्रिंक तो बिलकुल भी नहीं पीनी चाहिए, क्योंकि कोल्ड ड्रिंक के अंदर बहुत अधिक मात्रा में कार्बन डाईऑक्साइड बबल्स पाए जाते हैं जो के पीने वाले के पेट के अंदर जाकर एसिड बनाते हैं, जिससे कि पेट में गैस की समस्या उत्तपन होने लगती हैं।

  1. आलू न खाएं | Avoid Potato

जितना हो सके आलू का सेवन कम से कम करना क्योंकि आलू में स्टार्च बहुत अधिक मात्रा में पाया जाता है|  और यह स्टार्च  जल्दी पचती नही है जिसकी वजह से पेट में गैस की समस्या उत्तपन होती है।

  1. तली हुई चीजें | Fried Things

किसी भी प्रकार की तली हुई चीजें जैसे पैटीज, बर्गर, पिज्जा, पकोड़े इत्यादि तली हुई चीजों में फेट बहुत अधिक मात्रा में पाया जाता है जो के किसी के पेट में गैस की समस्या को एकदम से बाधा सकता है|

  1. पत्‍ता गोभी न खाएं | Avoid Cabbage

पत्ता गोभी की सब्‍जी पचाने में बहुत ही मुश्‍किल होती है और अगर आप इसे रात में खाए तो पेट में गैस और अपच और अन्‍य कई प्रकार की समस्‍याएं पैदा होती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *