सर्दी जुकाम के 10 नुस्खे

सर्दी जुकाम के 10 रामबाण नुस्खे

loading...

सर्दी जुकाम के 10 रामबाण नुस्खे

सर्दी जुकाम के 10 नुस्खे

सर्दी जुकाम होने का कारण (Reasons of Cough and Cold)

  • यह रोग ज्यादातर गलत-खान पान के कारण होता है क्योंकि हमारे गलत तरीके से खाने पीने से हामरे शरीर में दूषित द्रव इक्कठा हो जाता है और इसी कारण हमें यह रोग हो जाता है।
  • यह रोग अत्यधिक ठंड लगने और ताजी हवा में सांस लेने के कारण भी हो जाता है।
  • अधिक ठंडे पदार्थ का भोजन में ज्यादा उपयोग करना भी इस रोग का कारण हो सकता है।
  • हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने से भी सर्दी में यह रोग हो सकता है।
  • शरीर में अत्याधिल कमजोरी आ जाने के कारण भी हमे सर्दी हो जाती है।
  • किसी संक्रमित व्यक्ति के छींकने के द्वारा अगर उसकी बून्दे किसी अन्य स्वस्थ व्यक्ति पर पड़ जाए तो यह रोग किसी भी स्वस्थ व्यक्ति को हो जाता है। क्योंकि यह रोग खांसने और छींकने से बहुत जल्दी फैलता है।

Click here to read:-  8 Home Remedies to get rid of Dead Skin Cells from Body and Face

सर्दी जुकाम होने पर लक्षण (Symptoms of Cough and Cold)

  • जब यह रोग किसी व्यक्ति को हो जाए तो उसकी नाक से लगातार पानी बहने लगता है तथा उसे सिर में भारीपन महसूस होने लग जाता है। रोगी व्यक्ति को हलका-हल्का बुखार और शरीर में दर्द और थकान भी होने लगती है।
  • जब किसी इंसान में इस रोग की शुरूआत होती है तो उस व्यक्ति को ठंड लगने लगती है और उसके गले में खराश होने लगती है और उसकी नाक भी बहने लगती है।
  • इस बीमारी के कारण रोगी व्यक्ति को गले में या सीने में बहुत खांसी उठने लगती है, और कभी-कभी तो यह बहुत ही बढ़ जातो है।
  • पीड़ित रोगी को इस बीमारी की वजह से सांस लेने में परेशानी भी होने लगती है और रोगी व्यक्ति की आवाज भी भारी हो जाती है और बोलने या खाने-पीने में भी परेशानी होने लगती है।

सर्दी जुकाम का आयुर्वेदिक उपचार (Ayurvedic Treatment of Cough and Cold)

  1. तुलसी और अदरक को सर्दी-जुकाम के लिए रामबाण इलाज माना जाता है। इसके सेवन से रोगी को तुरंत राहत मिलती है। एक गिलास गर्म पानी में तुलसी की पांच-सात पत्तियां डाल ले और फिर उसमें अदरक के एक छोटे टुकड़े को डाल दे और फिर दोनो को मिलाकर उसे कुछ देर तक उबलने दे और इनका काढ़ा बना ले। जब पानी भाप बनकर उधने लगे और बिल्कुल आधा रह जाए तो इसे गिलास में निकल ले और धीरे-धीरे पी ले। यह नुस्खा बच्चों के साथ-साथ बड़ों को भी सर्दी-जुकाम में राहत दिलाने के लिए काफी असरदार होता है।
  2. 2. जब तक रोगी की सर्दी जुकाम ठीक न हो जाए, उसे सुबह और शाम में अदरक के साथ शहद चूसने को दे, इस से रोगी को बहुत आराम रहेगा।
  3. नाक के बंद होने और गले की ख़राश होने पर रोगी को गरम पानी में चुटकी भर नमक मिलकर गरारे करने को दे। इससे रोगी का गला खुल जाएगा। गले और शरीर में विषाणु का प्रकोप भी बहुत कम हो जाएगा।
  4. 3 – 4 काली मिर्च को पीस ले और फिर उसमे थोड़ी पीसी हुई हींग को मिला ले, फिर इसे गरम गुड की में भर कर उसकी छोटी-छोटी गोलियां बना ले और रोजाना सुबह शाम इन गोलियों का सेवन करे।
  5. गैस और मोटापे के इलाज के साथ-साथ अजवाइन खाने से सर्दी जुखाम में बहुत आराम मिलता है। गुनगुने पानी के साथ सुबह और शाम में अजवाइन लेने से इस बीमारी में बहुत जल्दी आराम मिलता है।
  6. नाक बंद हो तो काली मिर्च, दालचीनी, इलायची और जीरे को बराबर मात्रा मे ले और इसे किसी कोटन के कपड़े में बाँध कर बार-बार सूँघे, इससे रोगी को छींक आने लगेगी और बंद नाक आसानी से खुल जायेगा।
  7. जायफल और दालचीनी सर्दी जुकाम के रोग में रामबाण उपाय है। दालचीनी और जायफल को एक बराबर मात्रा में ले और फिर उसे पीस ले और दिन में 2 बार इसे खाए, इस उपाय से जुखाम में काफी आराम मिलेगा।
  8. 5 लौंग को 10 – 15 ग्राम गेंहू की भूसी में थोड़ा नमक लेकर पानी में मिला ले और फिर उबाल कर इसका काढ़ा बना ले। रोजाना सुबह और शाम को 1 – 1 कप गरम काढ़ा पिये इससे रोगी को सर्दी जुकाम से आराम मिलने लगेगा और कुछ ही दिनों में रोगी स्वस्थ हो जाएगा|
  9. सर्दी जुकाम के रोग में रात को सोने लेने से कुछ देर पहले राई के तेल को थोड़ा गर्म कर ले और फिर इसकी 3 से 4 बूंदे अपने दोनो कानों में डाले। इसके बाद आप रूई से अपने कानो को बंद कर ले| यह घरेलु उपाए जुकाम की समस्या में बहुत ही प्रभावशाली है।
  10. सर्दी जुकाम की बीमारी के उपचार में किशमिश का प्रयोग बहुत ही असरदार माना जाता है। किशमिश के कुछ दाने लेकर उन्हें पीस ले। अब इसे पानी में घोल कर मिश्रण बना ले इसमें फिर चीनी डाल कर उबाल ले और फिर इसे ठंडा होने दे। रोज रात को सोने जाने से पहले आपको इसका प्रयोग करना होगा, जिससे रोगी को सर्दी जुकाम में तेजी से आराम मिलता है।

सर्दी जुकाम के 10 नुस्खे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *