12 वजह जिनसे सोशल मीडिया आपका जीवन खराब कर सकता है

12 वजह जिनसे सोशल मीडिया आपका जीवन खराब कर सकता है

loading...

12 वजह जिनसे सोशल मीडिया आपका जीवन खराब कर सकता है

सोशल मीडिया (social media) का प्रयोग भले ही आपको दोस्तों (friends) के संपर्क में रहने के लिए अच्‍छा लगता हो। लेकिन इनका ज्‍यादा इस्‍तेमाल आपके स्वास्थ्य (health) और रिश्‍तों पर विपरीत असर (opposite effect) डालता है।

  1. सोशल मीडिया से जीवन पर असर | Social Media Effect on Life

फेसबुक (facebook) , ट्विटर (twitter) जैसी सोशल मीडिया (social media) वेबसाइट्स (sites) आज लोगों की जिंदगी (life) का हिस्‍सा बन गई हैं। यदि इन सभी से आदमी थोड़ी देर के लिए भी दूर होता है तो वह बेचैन हो जाता है। सोशल मीडिया (social media) का प्रयोग भले ही आपको दोस्तों (friends) के संपर्क में रहने के लिए अच्‍छा लगता हो। लेकिन इनका ज्‍यादा इस्‍तेमाल आपके स्वास्थ्य (health) और रिश्‍तों पर विपरीत असर डालता है।

Click Here To Read:-  8 Ways To Be A Good Son

  1. सिगरेट और शराब की आदत | Habit of Smoking and Drinking

सोशल मीडिया (social media) पर अपने दोस्तों (friends) अपने दोस्तों (friends) द्वारा पर शेयर की गई तस्‍वीरों का असर युवाओं पर पड़ता है। एक नए अध्‍ययन के अनुसार, फेसबुक (facebook)  और ट्विटर (twitter) आदि सोशल मीडिया (social media) शेयर की गई तस्‍वीरों में दोस्तों (friends) को सिगरेट और शराब पीते हुए देखकर युवा इससे दूर नहीं रह पाते। विश्‍वविद्यालय के वेलेन्टे ने बताया कि मित्रों की ऑनलाइन (online) तस्वीरें युवाओं को शराब और सिगरेट के प्रति प्रोत्साहित कर सकती हैं।

  1. याद्दाश्त पर असर | Effect on Memory

फेसबुक (facebook)  और ट्विटर (twitter) जैसी सोशल मीडिया (social media) का प्रयोग भले ही आपको दोस्तों (friends) के संपर्क में रहने के लिए अच्‍छा लगता हो। लेकिन इनका ज्‍यादा इस्‍तेमाल आपकी याद्दाश्त (memory) पर विपरीत असर डालता है। स्‍टॉकहोम के केटीएच रॉयल इंस्‍टीट्यूट ऑफ टेक्‍नोलॉजी के शोधकर्ताओं के अनुसार, दिमाग (brain) खाली समय में जानकारियों को सुरक्षित (safe) करने का काम करता है। सोशल मीडिया (social media) के इस युग में हर समय ऑनलाइन (online) रहने साथ ही अन्‍य कामों में लगे रहने के कारण दिमाग (brain) हर समय व्‍यस्‍त रहता है और उसे आराम नहीं मिल पाता। जिससे दिमाग (brain) को जानकारियों को सुरक्षित (safe) रखने की प्रक्रिया पूरा करने के लिए समय नहीं मिल पाता। जिसका सीधा असर उनकी याद्दाश्त (memory) पर पड़ता है।

  1. सामाजिक संबंधों पर असर | Effect on Social Relation

सोशल मीडिया (social media) का मकसद लोगों को एक-दूसरे से जोड़ने के साथ ही संचार माध्यम को मजबूती देना है। और इस मकसद में सोशल मीडिया (social media) को सफलता भी मिली। लेकिन साथ ही इसने सामाजिक संबंधों (relation) को भी प्रभावित किया है। कहते है न कि हर सिक्के (every coin) के दो पहलू होते हैं दूसरे पहलू में सोशल मीडिया (social media) ने लोगों के संबंधों (relation) में दखल देना शुरु कर दिया।

Click Here to Read:-  24 Valuable Tips To Be A Good Father

  1. रिश्ते में असंतोष का कारण | Dissatisfaction in Relations

सोशल मीडिया (social media) अधिकांश लोगों के जीवन (life) का हिस्सा बन चुकी हैं। शुरूआत में इसने आपसी संबंधों (relation) को मजबूती दी, लेकिन अब यह रिश्‍तों में समस्‍या पैदा करने का भी कारण बन गई हैं। जब आपका साथी (partner) सोशल मीडिया (social media) पर समय बिताता है तो आपकी भावनाओं को ठेस पहुंचती है। ऐसे में आप खुद को उपेक्षित महसूस करने लगते है। इस तरह से सोशल मीडिया (social media) किसी रिश्ते (relation) में असंतोष का कारण बन सकती है।

  1. लोगों की राय में बदलाव | Change in Peoples Thinking

पहले सोशल मीडिया (social media) का इस्तेमाल पुराने स्कूल के दोस्तों (friends) को खोजने और परदेश में रह रहे रिश्ते (relation)दारों से संपर्क बनाने के लिये किया जाता था। हाल के वर्षों में सोशल मीडिया (social media) ने हमारे जीवन (life) और संबंधों (relation) के सभी पहलुओं को घेर लिया है। यह लोगों को उनके दोस्तों (friends) व रिश्तेदारों (relation) की पसंद-नापसंद को सामाजिक दायरे से जोड़ता है। इस पूरे कार्यक्रम में कोई प्रत्यक्ष वार्तालाप या मुलाकात शामिल नहीं होती है। साथ ही किसी के बारे में लोग राय उसकी द्वारा की पोस्ट (posts) और टिप्‍पणियों के आधार पर करते हैं।

  1. गलत जानकारी | Wrong Information

कम उम्र के लड़के और लड़कियों की आदत (habit) होती है कि उत्साह में सोशल मीडिया (social media) की साइट्स (sites) पर प्रोफाइल (profile) पर अपना फोन नंबर, घर का पता या फिर कोई भी प्राइवेट इनफार्मेशन (private information) अपनी सभी जानकारी साझा कर देते हैं। ऐसा करने से कई बार समस्या आ जाती है। क्‍योंकि कुछ लोग (people) खुद को जैसा प्रदर्शित करते हैं वे वास्तविक जीवन (life) में वैसे नहीं होते। बाद में हकीकत जानने पर रिश्ते (relation) में दरार आने लगती हैं।

Click Here to Read:-  21 Ways To Make Good And Healthy Relationship

  1. पीठ और गर्दन में दर्द | Pain in Neck and Back

सोशल मीडिया (social media) की यह लत आपको बीमार भी बना सकती है। दिन भर सोशल मीडिया (social media) पर एक्टिव रहने वाले लोगों के पीठ और गर्दन में दर्द (neck and back pain) होना स्‍वाभाविक है। लगातार कई घंटों तक कंप्यूटर पर बैठकर चैट (chat) करेंगे तो आपके शरीर पर इसका असर तो होगा ही।

  1. ब्रेकअप व तलाक की नौबत | Situation of Breakup and Divorce

अमेरिकी रिसर्च के अनुसार सोशल मीडिया (social media) पर पार्टनर का दोस्‍त होना भी रिश्ते (relation) के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। यूनिवर्सिटी के छात्र रसल के अनुसार, ट्विटर (twitter) पर ज्यादा सक्रिय रहने वाले लोग को अपने रोमांटिक पार्टनर के साथ ट्विटर (twitter) संबंधित झगड़ों का अनुभव करने की अधिक संभावना (possibility) होती है। इस झगड़े का संबंधों (relation) पर नकारात्मक असर पड़ता है, जिसके फलस्वरूप ब्रेकअप व तलाक की नौबत आ जाती है।

  1. विविध किस्‍म के लोग | Various Types of People

सोशल मीडिया (social media) के सभी सदस्य गुणी नहीं होते। अनेक अवगुणी सदस्य और शरारती भी होते हैं। सोशल नेटवर्क के (social network) सभी दोस्त मूल्यवान नहीं होते। इसमें विविध किस्म के लोग होते हैं। इससे परंपरागत संप्रेषण और सामाजिक बंधनों (social bonding) की सीमाएं टूट रही हैं।

  1. दिन-दुनिया से बेखबर | Unaware of Real World

सोशल मिडिया यूजर और भी अधिक आलसी (lazy) बनता हैं, हममें से ज्यादातर लोग इसको इस्‍तेमाल करने के चक्‍कर में इससे दिन-दुनिया (real life) से बेखबर इसी में लगे रहते हैं। जिससे स्थानीय समाज (society) और संस्कृति से बेगानापन बढ़ रहा हैं।

Click Here To Read:- 10 Things You Should Never Do Before Sleeping

  1. नींद में कमी | Lack of Sleep

सोशल मीडिया (social media) से जुडे लोगों की नींद (sleep) पर गहरा असर पड़ता है। नींद (sleep) आने पर भी आप सोने की बजाय सोशल मीडिया (social media) पर एक्टिव रहते हैं। इससे आप अनिद्रा, थकान और चिड़चिड़ेपन का जल्दी शिकार (victim) हो जाते हैं। साथ ही आपके शरीर की पूरा सिस्‍टम (full system) बिगड़ जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *